News

गायिका रञ्जना झा मैथिली सांस्कृतिक गीतसभक संरक्षणमे तल्लीन

Ad

अपन बेछप सुर आ विलक्षण गायिकीसँ संगीताकाशक राष्ट्रीय क्षितिजपर परिचय बना चुकल गायिका रंजना झा आइकाल्हि मिथिलाक सांस्कृतिक गीत सभक संरक्षण- संवर्द्धनमे तल्लीनताक संग सक्रिय छथि।

किछु दिन पहिने मैथिली लोकगीतक विभिन्न प्रकारपर केन्द्रित सफल कार्यशालाक आयोजन करैत डॉ. रंजना झा नवतुरिया गायक/ गायिका सभकेँ अपन धरोहर गीत-संगीतसँ अवगत करौलन्हि आ तकरा बाद निरन्तर सोशल मिडियाइ संसाधन, यूट्यूब’ क माध्यमे कजरी, विषहरि गीत, मधुश्रावणी, बारहमासा आदि विभिन्न गीत परसैत श्रोताकेँ लाभान्वित आ आनन्दित कय रहल छथि । हुनक एहि उपक्रम मैथिली अकादमी पटनाक सौजन्य सेहो प्राप्त छन्हि।

विद्यापति संगीतक निष्णात स्वर रंजना झा हिन्दी धारावाहिक ‘सिया के राम’ आ मैथिली धारावाहिक ‘नैनन तिरपित भेल’ मे अपन विशिष्ट पार्श्वगायिकी क’ चुकल छथि । तँ विभिन्न फिल्मक लेल सेहो अपन स्वर दैत प्रसिद्ध रहल छथि ।

भारत सरकारक संगीत नाटक अकादमी पुरस्कारसँ सम्मानित भेलाक बाद पुनः अपन मातृभूमि ओ मातृभाषाक सेवा करैत गीत संगीतपर काज कय रहल छथि । संस्कृति मिथिलाक अध्यक्ष रामकुमार सिंह कहलन्हि जे रंजना जीक मिथिला- मैथिली लेल अतुलनीय योगदान छन्हि संगीतक माध्यमसँ आ एहि लेल हिनका पद्मश्री भेटबाक चाही। विश्वास अछि जे सुप्रसिद्ध गायिका रंजना झा एहिना सफलताक विभिन्न सोपान चढ़ैत मैथिली गीत संगीतकेँ सेहो आगू बढ़बैत रहतीह ।

किसलय कृष्ण

Guest Writer of I Love Mithila. Kislay Krishna is a famous anchor, lyricist & journalist of Maithili Industry

Related Articles